यह ‘थप्पड़’ समाज की दकियानूसी विचारधारा पर है

यह ‘थप्पड़’ समाज की दकियानूसी विचारधारा पर है ! ●प्रदीप शर्मा ‘आर्टिकल—15’ के बाद अनुभव सिन्हा…

सियासत के खेल में उलझकर रह गया लाईट, कैमरा, एक्शन …!

सियासत के खेल में उलझकर रह गया लाईट, कैमरा, एक्शन …! ▪प्रदीप शर्मा साहित्य और सिनेमा…