श्रीलंका दौरे पर फिर से द्रविड़ से सीखना चाहते हैं गायकवाड

नई दिल्ली, 12 जून (आईएएनएस)। श्रीलंका दौरे के लिए 20 सदस्यीय भारतीय क्रिकेट टीम में चुने गए सलामी बल्लेबाज ऋतुराज गायकवाड ने कहा है कि वह आगामी दौरे पर राहुल द्रविड़ से बहुत कुछ सीखना चाहते हैं।

गायकवाड शुरूआत में टीम में चुने जाने की खबरों से अंजान थे। वह अस्पताल में बिस्तर पर थे और उन्होंने अपने मोबाइल का नेट भी बंद कर दिया था ताकि कोई उन्हें परेशान न करें। हालांकि बार-बार फोन आने के बाद जब उन्होंने फोन उठाया तो फिर उन्हें टीम में चुने जाने के बारे में पता चला।

गायकवाड ने क्रिकइंफो से कहा, जब मैं सोने जाता हूं तो आम तौर पर मैं अपने मोबाइल का नेट बंद कर देता हूं। मैं जानता हूं कि अगर कोई जरूरी कॉल होगा तो जरूर दो बार आएगा। जब लगातार मेरे फोन बज रहे थे तब भी मुझे नहीं लगा था कि यह टीम में चयन वाली बात है। तब दो पत्रकारों ने मुझे बताया कि मेरा टीम में चयन हो गया है।

उन्होंने कहा, मुझे अपने माता-पिता को जगाने के लिए उन्हें बताना पड़ा। वे काफी गहरी नींद में थे, और जो कुछ मैं उन्हें पहले बता रहा था, उसे पूरी तरह से समझ नहीं पा रहे थे। लेकिन आज सुबह वे बहुत खुश हुए और घर पर कुछ पेड़े (मिठाई) बनाए। इससे मुझे बहुत खुशी हुई।

गायकवाड ने कहा कि वह इस बात को लेकर आश्वस्त नहीं है कि श्रीलंका दौरे पर उन्हें खेलने का मौका मिलेगा या नहीं। लेकिन वह इस मौके को भुनाने और सीखने के लिए तैयार है।

सलामी बल्लेबाज ने कहा, मैं अपने चयन के बारे में ज्यादा नहीं सोच रहा था। अभी भी मैं यह नहीं सोच रहा हूं कि क्या मैं खेलूंगा। मैं सीखने के लिए उत्सुक हूं, कुछ ऐसा जो आगे चलकर बहुत महत्वपूर्ण होगा। मैं राहुल द्रविड़ के नेतृत्व में प्रशिक्षण और एक महीना बिताने के लिए भी वास्तव में उत्साहित हूं, जो हमारे इंडिया-ए कोच थे जब मैं दो साल पहले टीम का हिस्सा था। वह हमारे साथ तीन दौरों पर थे, और हम एक-दूसरे से परिचित होने लगे। इसलिए जब उन्हें राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी का प्रमुख नियुक्त किया गया, तो मैं व्यक्तिगत रूप से निराश था कि अब मैं उनसे नहीं सीख पा रहा हूं। लेकिन अब, ऐसा करने का मौका मिलना मेरे लिए बहुत उपयोगी होगा।

–आईएएनएस

ईजेडए/एएनएम

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *