बिजनेस

रियाल जीडीपी घरेलू उत्पाद वर्ष 22 की दूसरी तिमाही में 8-9 प्रतिशत बढ़ने की उम्मीद

नई दिल्ली, 6 नवंबर (आईएएनएस)। मोतीलाल ओसवाल फाइनेंशियल सर्विसेज (एमओएफएसएल) ने कहा कि वित्तवर्ष 22 की दूसरी तिमाही में भारत की वास्तविक जीडीपी सालाना आधार पर 8-9 फीसदी की दर से बढ़ने की उम्मीद है।

रियाल जीडीपी एक निश्चित समय अवधि के भीतर किसी देश में उत्पादित सभी तैयार वस्तुओं और सेवाओं का मुद्रास्फीति समायोजित आंकड़ा है।

एक रिपोर्ट में, एमओएफएसएल ने कहा कि इसके इन-हाउस अनुमानों से पता चलता है कि भारत की वास्तविक जीडीपी वर्ष 22 की दूसरी तिमाही में 8-9 प्रतिशत की दर से बढ़ेगी।

दूसरी तिमाही के जीडीपी आंकड़े अभी जारी नहीं किए गए हैं। मैक्रो-इकोनॉमिक डेटा पॉइंट 30 नवंबर को जारी किए जाने वाले हैं।

इसके अलावा, रिपोर्ट में कहा गया है कि अक्टूबर 2021 की आर्थिक गतिविधि आशाजनक दिखाई दे रही है।

हालांकि, ब्रोकरेज हाउस के प्रारंभिक अनुमानों से संकेत मिलता है कि भारत के जीवीए के लिए आर्थिक गतिविधि सूचकांक (ईएआई) ने सितंबर 2021 में 5.4 प्रतिशत की सात महीने की कम वृद्धि दर्ज की, जो अगस्त 2021 में 11.7 प्रतिशत थी।

–आईएएनएस

एनपी/एसजीके

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
.site-below-footer-wrap[data-section="section-below-footer-builder"] { margin-bottom: 40px;}