देश साहित्य संस्कृति

राम और कृष्ण के गुण अपनाने से खत्म होंगे कंस और रावण जैसे लोग : विहिप प्रवक्ता

नई दिल्ली, 7 मार्च (आईएएनएस)। विश्व हिंदू परिषद (विहिप) के राष्ट्रीय प्रवक्ता विजय शंकर तिवारी ने समाज से कंस और रावण जैसे लोगों के खात्मे के लिए राम, कृष्ण, शंकर और चाणक्य का गुण अपनाने पर जोर दिया है।

उन्होंने संघ से जुड़े हमारा परिवार की गुरुग्राम इकाई के वार्षिकोत्सव समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि कार्यकर्ता संगठन की रीढ़ होता है। कार्यकर्ता निर्माण से ही राष्ट्र निर्माण संभव है। कार्यकर्ता के संस्कारित होने से परिवार व समाज संस्कारित होंगे। संस्कारित समाज से ही राष्ट्र संस्कारित होगा।

मुख्य वक्ता विजय शंकर ने कहा, आज हमें राम, कृष्ण, शंकर और चाणक्य के गुण अपनाने की आवश्यकता है, तभी समाज में विद्यमान कंस और रावण जैसे लोग जो समाज के सज्जन लोगों को पीड़ित करते हैं, उन पर विजय पाई जा सकती है। यह सब गुण संगठन के माध्यम से ही संभव है। संगठन कंकर से शंकर बनाने का काम करता है।

कार्यकर्ता निर्माण से राष्ट्र निर्माण विषयक कार्यक्रम का शुभारंभ भारत माता और स्वदेशी के प्रणेता दत्तोपंत ठेंगड़ी के चित्र के समक्ष दीप प्रज्वलित कर किया गया। मुख्य अतिथि के रूप में बोलते हुए गुरुग्राम के डीसीपी धीरज सेतिया ने संगठन के कार्यों की प्रशंसा की।

वहीं, विशिष्ट अतिथि स्किल विश्वविद्यालय के कुलपति राजनेहरू ने कहा, हमारा परिवार वसुधैव कुटुम्बकम् की भावना से कार्य कर राष्ट्र को परम वैभव पर ले जाने को कृत संकल्प है।

राष्ट्रीय संरक्षक राजकुमार गोयल ने हमारा परिवार संगठन के बारे में जानकारी दी। इस अवसर पर इकाई प्रमुख प्रदीप तायल, ऋषभ महाजन, रवि देशवाल, विशाल वशिष्ठ, राजीव गुप्ता, धीरज कुमार, मनोज आदि मौजूद रहे।

–आईएएनएस

एनएनएम/एसजीके

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *