खेल

फीफा विश्व कप : ब्राजील को हराकर दूसरी बार सेमीफाइनल में पहुंचना चाहेगा बेल्जियम (प्रीव्यू)

कजान (रूस),5 जुलाई (आईएएनएस)| फीफा विश्व के 21वें संस्करण में उलटफेर के सिलसिलों के बीच बेल्जियम और पांच बार की चैंपियन ब्राजील शुक्रवार को सेमीफाइनल में जगह बनाने के लिए मैदान में उतरेगी। बेल्जियम ने गुप चरण में तीनों मैच जीतकर अंतिम-16 में प्रवेश किया, जहां उसने दो गोलों से पिछड़ने के बाद गजब का जज्बा दिखाते हुए जापान को 3-2 से हराकर क्वार्टर फाइनल में कदम रखा है। हालांकि टीम पिछले दो बड़े टूर्नामेंटों फीफा विश्व कप 2014 और यूईएएफ यूरो 2016 में क्वार्टर फाइनल से ही बाहर हुई है।

बेल्यिम अगर ब्राजील को हराकर सेमीफाइनल में पहुंचता है तो टूर्नामेंट के इतिहास में उसका दूसरा सेमीफाइनल होगा। बेल्जियम इससे पहले 1986 में मेक्सिको में हुए विश्व के सेमीफाइनल में पहुंचा था जहां उसे अर्जेटीना से 0-2 से हार का सामना करना पड़ा था।

वर्ष 2002 के विश्वकप में ब्राजील ने बेल्जियम को 2-0 से हराकर टूर्नामेंट से बाहर किया था। ऐसे में बेल्जियम के ऊपर इस मुकाबले में मनोवैज्ञानिक दबाव होगा और वह इससे बाहर निकलना चाहेगी।

बेल्जियम के रोमेलु लुकाकु इस संस्करण में अब तक तीन मैचों में चार गोल कर चुके हैं और वह इंग्लैंड के कप्तान हेरी केन (छह गोल) को गोल्डन बूट की रेस में अच्छी टक्कर दे रहे हैं। वहीं कप्तान ईडन हेजर्ड से भी टीम बहुत उम्मीदें होंगी।

बेल्जियम ने प्री-क्वाार्टर फाइनल में जिस तरह से जापान के खिलाफ दो गोल से पिछड़ने के बाद वापसी की वह चौंकाने वाली थी। बेल्जियम ने अपने इस प्रदर्शन से दिखा है कि वह नेमार एंड कंपनी को कड़ी चुनौती देने के लिए पूरी तरह से तैयार है।

वहीं दूसरी तरफ ब्राजील भी अपने ग्रुप में सात अंकों के साथ शीर्ष पर रहते हुए प्री-क्वार्टर फाइनल में पहुंचा था। ब्राजील ने अंतिम-16 में मेक्सिको को एकतरफा अंदाज में 2-0 से हराकर क्वार्टर फाइनल में कदम रखा है।

विश्व कप के इतिहास में 14वीं बार क्वार्टर फाइनल में पहुंची ब्राजील ने इस संस्करण में अब तक केवल एक गोल खाया है जबकि उसने सात गोल दागे हैं। ऐसे में टीम कोच टिटे के मार्गदर्शन में बेल्जियम के खिलाफ भी इसे जारी रखना चोहगी।

ग्रुप चरण में अपने पहले ही मैच में स्विट्जरलैंड से 1-1 का ड्रॉ खेलने के बाद ऐसा लग रहा था कि ब्राजील उलटफेर का शिकार हो जाएगी। लेकिन इसके बाद से उसने अपने तीनों मैच में जीत दर्ज कर उलटफेर की संभावनाओं को खारिज कर दिया।

मौजूदा चैंपियन जर्मनी, अर्जेटीना, स्पेन और पुर्तगाल के बाहर हो जाने के बाद टूर्नामेंट अब पूरी तरह खुल गया है और ब्राजील के लिए छठी बार विश्वकप जीतने का रास्ता आसान हो गया है।

ब्राजील के दिग्गज खिलाड़ी नेमार ने अभी तक चार मैचों में दो गोल किए हैं। नेमार पहले से ही येलो कार्ड पर चल रहे हैं और इस मैच में एक और येलो कार्ड मिलने पर अगले मैच से निलंबित हो सकते हैं।

ब्राजील लगातार सातवीं बार क्वार्टर फाइनल में पहुंची है और उसकी कोशिश होगी वह इस सफर को सेमीफाइनल और उससे आगे तक लेकर जाए।

टीमें-

ब्राजील :

गोलकीपर : एलिसन, कासियो, एंडरसन

डिफेंडर : गेरोमेल, फिलिपे लुइस, मासेर्लो, मान्हरेस, मिरांडा, फागनेर, थियागो सिल्वा

मिडफील्डर : कैसिमीरो, फर्नाडिन्हो, फ्रेड, पॉलिन्हो, फिलिपे कोटिन्हो, रेनाटो ऑगस्तो, विलियन

फारवर्ड : फिर्मिनो, गेब्रिएल जीसस, नेमार, टाइसन

बेल्जियम-

बेल्जियम :

गोलकीपर :- तिबाउत कोटरेइस, सिमोन मिग्नोलेट, कोएन कास्टील्स

डिफेंडर :- टोबी एल्डरवीरेल्ड, थोमस वीरमाएलेन, विंसेट कोम्पानी, जान वटरेनघेन, थोमस म्यूनिएर, डेड्रिक बोयाटा, लिएंडर डेनडोनकेर

मिडफील्डर :- एक्सेल विस्टल, केविन डे ब्रूने, मारुआने फेलेनी, यानिक करास्को, थोर्गन हेजार्ड, योउरी तिएलमेंस, मोउसा डेम्ब्ले, नासेर चाडली

फारवर्ड :- रोमेलु लुकाकु, ईडन हेजार्ड, ड्राइस मर्टेस, एडनान जानुजाई, मिची बात्शुयाई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *