Uncategorized

प्रियंका ने रायबरेली पहुंचने से पहले किए हनुमान के दर्शन

 रायबरेली, 22 अक्टूबर (आईएएनएस)| कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी मंगलवार को अपनी मां सोनियां गांधी के संसदीय क्षेत्र रायबरेली पहुंचीं।

  इससे पहले लखनऊ से रायबरेली के रास्ते में प्रियंका ने लखनऊ-प्रयागराज हाईवे पर बछरावां की सरहद पर प्रसिद्घ चुरुवा हनुमान मंदिर में दर्शन किए। कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने रास्ते में उनका जगह-जगह स्वागत किया। भुएमउ गेस्ट हाउस में तीन दिनों तक कांग्रेस पदाधिकारियों के लिए पाठशाला चलेगी।

प्रियंका कांग्रेस की इस कार्यशाला में नए पदाधिकारियों की जिम्मेदारी और जवाबदेही तय करेंगी। इसके साथ ही नई कमेटी के हर सदस्य को विशेष जिम्मेदारी सौंपी जाएगी और उनसे रोजाना रिपोर्ट तलब की जाएगी।

मंगलवार सुबह ही प्रदेश कांग्रेस कमेटी के सभी पदाधिकारी प्रदेश अध्यक्ष अजय सिंह लल्लू के नेतृत्व में यहां गेस्ट हाउस पहुंच गए। अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के प्रशिक्षण प्रकोष्ठ के पदाधिकारी क्लास लगाएंगे। गेस्ट हाउस के विजिटर्स हाल को प्रशिक्षण कक्ष में बदल दिया गया है।

सूत्रों के अनुसार, इस प्रशिक्षण कक्ष में प्रोजेक्टर भी लगाए गए हैं। कांग्रेस के प्रदेश पदाधिकारी पाठशाला में पांच सत्र में अपने विचार रखेंगे। इन पदाधिकारियों को इस दौरान बताया जाएगा कि कैसे वे आम लोगों के बीच में किन-किन मुद्दों को लेकर प्रभावी ढंग से जाएं।

सूत्रों के मुताबिक, एक सत्र में पदाधिकारियों की परीक्षा भी ली जाएगी। एआईसीसी के प्रशिक्षक यह जांचने प्रयास करेंगे कि प्रशिक्षण उपरान्त पदाधिकारियों ने बीते दो दिन में क्या सीखा।

उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी गठित होने के बाद पदाधिकारियों को सबसे पहले उपचुनाव में जगह-जगह जिम्मेदारी दी गई। उनको प्रशिक्षण कार्यशाला के लिए 22 अक्टूबर को रायबरेली बुलाया गया है।

इससे पहले प्रियंका गांधी ने एक ट्वीट के माध्यम से योगी सरकार पर निशाना साधा। उन्होंने कहा, “देश में महिलाओं पर सर्वाधिक अपराध उप्र में हो रहे हैं। एक साल में 56,000 से ज्यादा और इसमें वे घटनाएं शामिल नहीं है, जिनकी रिपोर्ट दर्ज नहीं हुई। क्या यह आंकड़ा इतना भी गंभीर नहीं कि मुख्यमंत्री जी इसका संज्ञान लेते? ‘बेटी बचाओ अभियान’ के कार्यक्रमों को लेकर प्रदेश भर में घूमते हुए उन्हें शर्म आनी चाहिए।”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *