खेल

पाकिस्तान के खिलाफ खेलने के लिए आपको पाकिस्तान आना होगा : पीसीबी

 रावलपिंडी, 11 दिसम्बर (आईएएनएस)| पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) ने जोर देकर कहा है कि पाकिस्तान अब तटस्थ मैदान पर मैच नहीं खेलेगा और अगर किसी टीम को पाकिस्तान के खिलाफ खेलना है तो उसे पाकिस्तान आना होगा।

  पाकिस्तान टूडे की रिपोर्ट के अनुसार, पाकिस्तान की टीम 2009 में श्रीलंकाई टीम पर हुए आंतकी हमले के बाद से करीब 10 साल बाद अपने घर में कोई टेस्ट मैच खेल रही है। मेजबान टीम इस समय दो मैचों की टेस्ट सीरीज के लिए श्रीलंकाई टीम की मेजबानी कर रही है।

पीसीबी के चेयरमैन एहसान मनी ने कहा, “दूसरी टीमों को यह बताना होगा कि वे पाकिस्तान में क्यों नहीं खेल सकती हैं। हमारा रुख यह रहेगा कि पाकिस्तान अब सुरक्षित है। हम पाकिस्तान में क्रिकेट खेल सकते हैं और अगर आप पाकिस्तान के खिलाफ खेलना चाहते हैं तो आपको पाकिस्तान आना होगा।”

श्रीलंका की टीम ने ही 2009 में अंतिम बार पाकिस्तान का दौरा किया था। उस दौरे के समय टीम पर आतंकी हमले हुए थे, जिसमें छह खिलाड़ी घायल हो गए थे। उसके बाद से (जिम्बाब्वे और वेस्टइंडीज को छोड़कर) किसी भी टीम ने पाकिस्तान का दौरा नहीं किया।

श्रीलंका की टीम सीमित ओवरों की सीरीज के लिए इस साल सितंबर-अक्टूबर में पाकिस्तान दौरे पर आई थी। 2009 के बाद से और श्रीलंका के इस दौरे से पहले तक पाकिस्तान अपने सभी घरेलू मैच संयुक्त अरब अमीरात में खेलता आ रहा था।

पिछले चार साल से पाकिस्तान दुनिया को यह विश्वास दिलाता आ रहा है कि पाकिस्तान अब सुरक्षित जगह है। इसके लिए उसने इन चार सालों के दौरान जिम्बाब्वे, वेस्टइंडीज, श्रीलंका और विश्व एकादश की मेजबानी भी की है।

पीसीबी चेयरमैन ने कहा, “पिछले छह महीनों के दौरान आस्ट्रेलिया, इंग्लैंड, आयरलैंड और अंतर्राष्ट्रीय खिलाड़ियों के संघ पाकिस्तान का दौरा कर चुके हैं और जब उन्होंने यहां पर जमीनी हकीकत देखी तो उनकी सोच पूरी तरह से अलग थी। मुझे पूरा विश्चवास है कि 2021 में इंग्लैंड और 2022 में आस्ट्रेलिया भी पाकिस्तान का दौरा करेगा।”

उन्होंने कहा, “2023-24 तक न्यूजीलैंड के साथ हमारा खेलने का कोई कार्यक्रम नहीं है, लेकिन मेरा मानना है कि पाकिस्तान अब अपने सभी घरेलू मैच पाकिस्तान में ही खेलेगा।”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *