साहित्य संस्कृति

तिरुमला ब्रह्मोत्सवम में 7 लाख से अधिक श्रद्धालुओं ने हिस्सा लिया

 तिरुपति, 8 अक्टूबर (आईएएनएस)| यहां तिरुमला पर्वत के शिखर पर स्थित मंदिर में मंगलवार को सात लाख से अधिक श्रद्धालुओं ने नौ दिवसीय वार्षिक त्योहार श्रीवारी सलाकाटला ब्रह्मोत्सवम के दौरान भगवान वेंकटेश्वर के दर्शन किए।

 तिरुमला तिरुपति देवस्थानम (टीटीडी) के अधिकारियों ने कहा कि इस साल पिछले साल के मुकाबले 20 प्रतिशत अधिक श्रद्धालु आए।

टीटीडी के कार्यकारी अधिकारी (ईओ) अनिल कुमार सिंघल ने मीडिया को बताया कि टीटीडी ने इस साल 31 लाख लड्डू बेचे हैं, वहीं बीते साल त्योहार के दौरान करीब 24 लाख लड्डू बेचे गए थे।

ब्रह्मोत्सवम के आखिरी दिन पुजारियों ने चक्र स्नानम का आयोजन किया। इस दौरान देवता की मूर्तियों की विशेष पूजा की गई, जिसके बाद उन्हें मंदिर में स्थित एक तलाब स्वामी पुष्करिणी के जल में स्नान कराया गया।

इस त्योहार की शुरुआत 30 सितंबर से ध्वाजारोहणम से हुई थी। इसमें मंदिर के शिखर पर भगवान गरुण की तस्वीर वाले झंडे को फहराया जाता है।

परंपरा के अनुसार, आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री वाई. एस. जगन मोहन रेड्डी ने देवता को एक जोड़ी सिल्क के व चढ़ाए।

इस त्योहार का सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा गरुण सेवा था, जो चार अक्टूबर को मनाया गया। इस दिन करीब 85000 लोगों ने देवता के दर्शन किए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *