देश

कांग्रेस यह समझे कि ‘किसकी आलोचना करनी है, किसकी नहीं’ : शाह

कैथल(हरियाणा), 9 अक्टूबर (आईएएनएस)| केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने बुधवार को कहा कि कांग्रेस को ‘किस चीज की आलोचना करनी है और किस चीज की नहीं’ इस पर चिंतन-मनन करना चाहिए। यहां 21 अक्टूबर को 90 सदस्यीय विधानसभा के लिए अपनी पहली चुनावी रैली को संबोधित करते हुए शाह ने रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह द्वारा फ्रांस में दशहरा के दिन राफेल विमान प्राप्त करने के अवसर पर शस्त्र पूजा की आलोचना करने के लिए कांग्रेस को आड़े हाथ लिया।

उन्होंने कहा, “क्या विजयादशमी के दिन शस्त्र पूजा नहीं होनी चाहिए? उन्हें इस बात पर चिंतन करना चाहिए कि किस चीज की आलोचना करनी है, किस चीज की नहीं।”

उन्होंने कहा कि जब कांग्रेस कैथल आए तो आप उन्हें पूछना कि क्यों उन्होंने अनुच्छेद 370 हटाने का विरोध किया था? वे क्यों तीन तलाक बिल के विरोध में थे और उन्होंने क्यों गैर कानूनी गतिविधियां रोकथाम संशोधन अधिनियम, 2019(यूएपीए) का बहिष्कार किया।

गृहमंत्री ने कहा, “हमारे जवानों ने बालाकोट में सर्जिकल स्ट्राइक किया, पाकिस्तानी आतंकवादियों को मौत के घाट उतारा और सभी जवानों के साथ सकुशल वापस आ गए। उन्होंने उन जवानों का बदला लिया जिन्होंने अपनी जिंदगी की कुर्बानी दी।”

उन्होंने कहा कि हरियाणा में जिसकी भी सरकार बनी, उन्होंने एक विशेष जाति पर ध्यान दिया, लेकिन मनोहर लाल खट्टर के लिए कोई जाति महत्वपूर्ण नहीं है, यह सरकार हरियाणा में सबके लिए है।

लिंगानुपात को बेहतर करने के लिए राज्य सरकार की प्रशंसा करते हुए शाह ने कहा कि हरियाणा पहले काफी बदनाम था क्योंकि यहां बहुत कम लड़कियों का जन्म होता था।

शाह ने कहा, “प्रधानमंत्री यहां आए और ‘बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ’ को हरियाणा का नारा बनाने की अपील की। आज इस राज्य ने इस नारे को मूल्यवान बना दिया है।”

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *